Home Real Life Stories जब में 8 साल की थी

जब में 8 साल की थी

248
0
SHARE

मेरा नाम संगीता देशमुख हैं  | बात उस समय की है जब मेरी उम्र 8 साल थी | हम 4 भाई बहन हैं पापा बटेश्वर में जमींदार थे घर में उस समय की सभी सुख सुविधा थी | पर अचानक से सब बदल गया | ताऊजी ने पापा से धोके से Sign कराकर सब  प्रॉपर्टी अपने नाम करा ली | और हमें घर छोड़कर आगरा आना पढ़ा | पापा की कभी भी Job करने की आदत नहीं थी | फिर भी उन्होंने Usha कम्पनी में नौकरी कर ली | जैसे तैसे मम्मी घर का काम चला लेती थी | धीरे धीरे पापा की तबियत भी ख़राब रहने लगी डॉक्टर ने उन्हें T.B बताया | उस समय T.B का भी इलाज नहीं था |
अब पापा को भी नौकरी से निकल दिया गया |
मम्मी ने घर पर सिलाई काम शुरू कर दिया में और मेरी २ और बहने मम्मी के काम में मदद करने लगी | भाई ने घर घर Newspaper बेचने शुरू कर दिया | उसी से हम घर का खर्च और अपनी पढ़ाई का खर्चा निकालने लगे |
घर में सब एक समय ही खाना खाते भूख ज़्यदा लगने पर पानी पी लेते | फिर एक दिन मेरी Government  College में job लग गयी और घर की हालत धीरे धीरे ठीक होने लगी | और भाई की भी एक electronics Comapany में job लग गयी
फिर हम सब भाई बहन की शादी हो गयी आज आज मेरी उम्र 55 साल है| और हम सब अपनी लाइफ में खुश है |
ज़िंदगी में कई उतार चढ़ाव आते हैं | पर ज़िंदगी को ख़ुशी ख़ुशी जीते जाना ही ज़िंदगी  है |
एक दिन सब ठीक  हो जाता है | और हमरे पास शेयर करने को Experience हो जाते हैं | आज जब भी पुरानी बातो को याद करती हु तो बस यही सोचती हु कितनी भी परेशानी आये बस अपने पर से  विश्वास कभी नहीं खोना चाहिए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here